(Pre + Mains) RPSC RAS Syllabus in Hindi 2023 Pdf Download

RPSC RAS परीक्षा, राजस्थान लोक सेवा आयोग (RPSC) द्वारा आयोजित की जाती है, और यह एक प्रमुख प्रतियोगी परीक्षा है जिसे राजस्थान में सिविल सेवा में चयन के लिए आयोजित किया जाता है।

RPSC RAS Exam 2023 की तैयारी कर रहे उम्मीदवारों के लिए यहां हमने RPSC RAS Syllabus 2023 की पूरी जानकारी दी है।

दोस्तों हम इस पोस्ट में हम आपको RPSC RAS परीक्षा सिलेबस के बारे में सबकुछ बताएँगे और आपको सिलेबस PDF डाउनलोड करने का तरीका भी बताएंगे। तो चलिए आगे बढ़ते है और जानते है RAS Syllabus in Hindi 2023 और RAS Exam Pattern के बारे में।

Exam Overview

परीक्षा का नाम RAS (राजस्थान प्रशासनिक सेवा) परीक्षा
परीक्षा प्रकार प्रांतीय स्तर की सिविल सेवा परीक्षा
परीक्षा आयोजक राजस्थान लोक सेवा आयोग (RPSC)
परीक्षा तिथियाँ प्रारंभिक: जून/जुलाई, मुख्य: अक्टूबर/नवम्बर
परीक्षा की भाषा हिंदी और अंग्रेजी
प्रारंभिक परीक्षा प्रकार बहुविकल्पीय 
मुख्य परीक्षा प्रकार लिखित 
आयु सीमा 21 वर्ष से 40 वर्ष
आधिकारिक वेबसाइट Visit Here

Read more: Rajasthan High Court LDC Syllabus

RAS Exam Pattern in Hindi 2023

राजस्थान लोक सेवा आयोग (Rajasthan Public Service Commission – RPSC) द्वारा आयोजित राजस्थान राज्य सेवा परीक्षा का पैटर्न दो चरणों में होता है – Pre exam और Main exam। नीचे हमने RAS Pre Exam Pattern और RAS Main Exam Pattern को विस्तार से बताया है।

RAS Pre Exam Pattern 2023:

  • RPSC RAS प्रारंभिक परीक्षा में कुल 150 प्रश्न पूछे जाते हैं।
  • पेपर में सभी प्रश्न बहुवैकल्पिक प्रकार के होते हैं।
  • इस पेपर को पूरा करने के लिए उम्मीदवारों को 3 घंटे का समय दिया जाता है।
  • इसमें नेगेटिव मार्किंग 1/3 अंक की होती है।
  • इस पेपर में नागरिकता, संविधान, राजस्थान की इतिहास, भूगोल, और सांस्कृतिक धरोहर से सम्बंधित प्रश्न पूछे जाते हैं।
  • ये एग्जाम पूरे 200 अंको का होता है।
सब्जेक्ट कुल प्रश्नों की संख्या कुल अंक  कुल समय 
जनरल साइंस और जनरल नॉलेज 150 200 3 घण्टे 

RAS Main Exam Pattern 2023:

  • RAS के मुख्य परीक्षा में चार पेपर होते हैं।
  • प्रत्येक पेपर को पूरा करने के लिए उम्मीदवार को 3 घंटे का समय दिया जाता है।
  • प्रत्येक पेपर 200 अंकों के होते हैं।
  • इस पेपर में हिंदी और अंग्रेज़ी भाषा के प्रश्न पूछे जाते हैं
पेपर विषय का नाम  कुल अंक कुल समय
पेपर- I सामान्य अध्ययन-I 200 3 घन्टे
पेपर – II सामान्य अध्ययन- II 200 3 घन्टे
पेपर – III सामान्य अध्ययन -III 200 3 घन्टे
पेपर – IV सामान्य हिंदी एवं सामान्य अंग्रेजी 200 3 घन्टे

RAS Pre Exam Syllabus in Hindi Pdf 2023

जो बच्चे RAS Pre Exam की तयारी कर रहे उनके लिए हमने विस्तार से बताया है और नीचे एक पीडीऍफ़ लिंक भी दी है जिससे आसानी से आप इस RAS Pre Exam Syllabus in Hindi को डाउनलोड कर सकते है।

भाग 1 – राजस्थान का इतिहास, कला, संस्कृति, साहित्य, परंपरा और विरासत

  • राजस्थान के प्राचीन काल: पुरापाषाण काल से लेकर ताम्रपाषाण और कांस्य युग तक का इतिहास।
  • प्राचीन राजस्थान: प्रारंभिक ईसाई युग के महत्वपूर्ण ऐतिहासिक केंद्र में राजस्थान का योगदान। प्राचीन राजस्थान में समाज, धर्म, और संस्कृति की महत्वपूर्ण प्रक्रियाएँ।
  • प्रमुख राजवंश और उनके शासक: गुहिला, प्रतिहार, चौहान, परमार, राठौर, सिसोदिया, और कच्छवा राजवंशों के महत्वपूर्ण शासकों का इतिहास और उनकी राजनीतिक और सांस्कृतिक योगदान। मध्यकालीन राजस्थान में प्रशासनिक और राजस्व प्रणाली।
  • आधुनिक राजस्थान का उदय: 19वीं और 20वीं शताब्दी के दौरान राजस्थान में सामाजिक जागरूकता के प्रमुख कारक। राजनीतिक जागरूकता की भूमिका: समाचार पत्रिकाओं और राजनीतिक संस्थानों का साथ। 20वीं सदी में आदिवासी और किसानों के आंदोलन, 20वीं सदी के दौरान विभिन्न रियासतों में प्रजा मंडल आंदोलन। राजस्थान का एकीकरण।
  • राजस्थान की वास्तुकला परंपरा: मंदिर, किले, महल, और मानव निर्मित जल संरचनाएँ; पेंटिंग और हस्तकला के विभिन्न प्राथमिकताएँ।
  • प्रदर्शन कला: शास्त्रीय संगीत और शास्त्रीय नृत्य; लोक संगीत और वाद्ययंत्र; लोक नृत्य और नाटक।
  • भाषा और साहित्य: राजस्थानी भाषा की विभिन्न बोलियाँ। राजस्थानी भाषा और लोक साहित्य का साहित्य।
  • धार्मिक जीवन: राजस्थान में धार्मिक समुदाय, संत, और संप्रदाय का अध्ययन। राजस्थान के लोक देवता।
  • सामाजिक जीवन राजस्थान में: मेले और त्योहार; सामाजिक रीतियाँ, परंपराएँ, और पोशाक और आभूषण।
  • राजस्थान की मुख्य प्रमुख हस्तियाँ।

भाग 2 – भारतीय इतिहास

  • भारत की सांस्कृतिक नींव: सिंधु और वैदिक युग; 6वीं शताब्दी ईसा पूर्व की त्यागी परंपरा और नए धार्मिक विचार – आजीवक, बौद्ध, और जैन धर्म।
  • प्रमुख राजवंशों के प्रमुख शासकों की उपलब्धियां: मौर्य, कुषाण, सातवाहन, गुप्त, चालुक्य, पल्लव, और चोल।
  • प्राचीन भारत में कला और वास्तुकला।
  • प्राचीन भारत में भाषा और साहित्य का विकास: संस्कृत, प्राकृत, और तमिल।
  • सल्तनत काल: प्रमुख सल्तनत शासकों की उपलब्धियां। विजयनगर की सांस्कृतिक उपलब्धियां।
  • मुगल काल: राजनीतिक चुनौतियां और सुलह – अफगान, राजपूत, दक्कन राज्य, और मराठा।
  • मध्ययुगीन काल के दौरान कला और वास्तुकला, पेंटिंग और संगीत का विकास।
  • भक्ति और सूफी आंदोलन का धार्मिक और साहित्यिक योगदान।
  • आधुनिक भारत का विकास और राष्ट्रवाद का उदय: बौद्धिक जागरूकता; प्रेस; पश्चिमी शिक्षा। 19वीं शताब्दी के दौरान सामाजिक-धार्मिक सुधार: विभिन्न नेता और संस्थान।
  • स्वतंत्रता संग्राम और भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन: इसके विभिन्न चरण, धाराएँ, और महत्वपूर्ण योगदानकर्ता, देश के विभिन्न हिस्सों से योगदान।
  • स्वतंत्रता के बाद राष्ट्र निर्माण: राज्यों का भाषाई पुनर्गठन, नेहरूवादी युग के दौरान संस्थागत निर्माण, विज्ञान और प्रौद्योगिकी का विकास।

भाग 3-  विश्व और भारत का भूगोल

  • प्रमुख भू-आकृतियाँ: पहाड़, पठार, मैदान और रेगिस्तान।
  • प्रमुख नदियाँ और झीलें।
  • कृषि के प्रकार।
  • प्रमुख औद्योगिक क्षेत्र।
  • पर्यावरणीय मुद्दे: मरुस्थलीकरण, वनों की कटाई, जलवायु परिवर्तन और ग्लोबल वार्मिंग, ओजोन परत का क्षरण।
  • प्रमुख भू-आकृतियाँ: पर्वत, पठार, मैदान।
  • मानसून और वर्षा वितरण का तंत्र।
  • प्रमुख फसलें: गेहूं, चावल, कपास, गन्ना, चाय और कॉफी।
  • प्रमुख खनिज: लौह अयस्क, मैंगनीज, बॉक्साइट, अभ्रक।
  • विद्युत संसाधन: पारंपरिक और गैर-पारंपरिक।
  • प्रमुख औद्योगिक क्षेत्र।
  • राष्ट्रीय राजमार्ग और प्रमुख परिवहन गलियारे।

भाग 4 – राजस्थान का भूगोल

  • प्रमुख भौगोलिक क्षेत्र और उनकी विशेषताएं।
  • खनिज- धात्विक और अधातु
  • विद्युत संसाधन- पारंपरिक और गैर-पारंपरिक
  • जैव विविधता और उसका संरक्षण
  • पर्यटक केंद्र और सर्किट
  • जलवायु विशेषताएं
  • प्रमुख नदियाँ और झीलें
  • प्रमुख सिंचाई परियोजनाएं और जल संरक्षण तकनीक
  • जनसंख्या-विकास, घनत्व, साक्षरता, लिंग-अनुपात और प्रमुख जनजातियाँ
  • प्राकृतिक वनस्पति और मिट्टी
  • प्रमुख फसलें- गेहूं, मक्का, जौ, कपास, गन्ना और बाजरा
  • प्रमुख उद्योगों।

भाग 5 – राजस्थान की राजनीतिक और प्रशासनिक व्यवस्था

  • राज्यपाल, मुख्यमंत्री और मंत्रिपरिषद, विधान सभा, उच्च न्यायालय।
  • जिला प्रशासन, स्थानीय स्वशासन, पंचायती राज संस्थाएं
  • राजस्थान लोक सेवा आयोग, जिला प्रशासन, राज्य मानवाधिकार आयोग, लोकायुक्त, राज्य चुनाव आयोग, राज्य सूचना आयोग।
  • सार्वजनिक नीति, कानूनी अधिकार और नागरिक चार्टर।

भाग 6 – आर्थिक अवधारणाएं और भारतीय अर्थव्यवस्था

  • बजट, बैंकिंग, सार्वजनिक वित्त, माल और सेवा कर , राष्ट्रीय आय, विकास और विकास का बुनियादी ज्ञान
  • लेखांकन- प्रशासन में अवधारणा, उपकरण और उपयोग
  • स्टॉक एक्सचेंज और शेयर बाजार
  • राजकोषीय और मौद्रिक नीतियां
  • सब्सिडी, सार्वजनिक वितरण प्रणाली
  • ई-कॉमर्स
  • मुद्रास्फीति- अवधारणा, प्रभाव और नियंत्रण तंत्र
  • अर्थव्यवस्था के प्रमुख क्षेत्र: – कृषि, उद्योग, सेवा और व्यापार क्षेत्रों की वर्तमान स्थिति, मुद्दे और पहल
  • प्रमुख आर्थिक समस्याएं और सरकारी पहल।
  • आर्थिक सुधार और उदारीकरण।
  • मानव विकास सूची
  • खुशी सूचकांक
  • गरीबी और बेरोजगारी:- संकल्पना, प्रकार, कारण, उपचार और वर्तमान प्रमुख योजनाएं।
  • कमजोर वर्गों के लिए प्रावधान।

भाग 7 -राजस्थान की अर्थव्यवस्था

  • अर्थव्यवस्था का मैक्रो अवलोकन।
  • प्रमुख कृषि, औद्योगिक और सेवा क्षेत्र के मुद्दे।
  • विकास, विकास और योजना।
  • बुनियादी ढांचा और संसाधन।
  • प्रमुख विकास परियोजनाएं।
  • कार्यक्रम और योजनाएं- अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति/पिछड़े वर्ग/अल्पसंख्यकों/विकलांग व्यक्तियों, निराश्रितों, महिलाओं, बच्चों, वृद्ध लोगों, किसानों और मजदूरों के लिए सरकारी कल्याण योजनाएं।

Read more: Reet Syllabus 2017 Level 1& 2 Exam Syllabus

RAS Mains Syllabus 2023 in Hindi 

अगर आप RAS Mains Exam की तयारी कर रहे है तो आप RAS Mains Syllabus Pdf को डाउनलोड कर सकते है।

General Hindi

  • संधि
  • समास
  • कारक
  • क्रिया
  • विशेषण
  • सर्वनाम
  • क्रियापद
  • उपसर्ग
  • प्रत्यय
  • वाच्य
  • लिंग
  • वचन
  • काल
  • पर्यायवाची शब्द
  • विलोम शब्द
  • अनेकार्थक शब्द
  • मुहावरे और लोकोक्तियाँ
  • शब्द रचना
  • वाक्य रचना
  • अपठित गद्यांश
  • पाठ्यक्रम में दिए गए गद्यांश का सारांश
  • General Studies 
  • भारतीय इतिहास और संस्कृति
  • आधुनिक विश्व का इतिहास
  • भारतीय अर्थव्यवस्था
  • राजस्थान की परंपरा और विरासत
  • इतिहास
  • राजस्थान
  • वैश्विक अर्थव्यवस्था
  • समाजशास्त्र
  • प्रबंधन
  • लेखांकन और संपादन
  • प्रशासनिक नैतिकता
  • भारत
  • भारतीय राजनीतिक प्रणाली
  • कला
  • संस्कृति
  • राजस्थान की आर्थिक व्यवस्था
  • विश्व राजनीति और वर्तमान घटनाएँ
  • लोक प्रशासन और प्रबंधन के सिद्धांत, मुद्दे, और डायनामिक्स
  • साहित्य
  • कानून
  • व्यवहार
  • विश्व
  • खेल और योग
  • सामान्य विज्ञान और टेक्नोलॉजी

General English

  • Sequence of Sentence
  • Transformation of sentence
  • Spot the Error
  • Active and passive voice
  • Narrations
  • One word Substitutions
  • Passage
  • Comprehensions
  • Antonyms, Synonyms
  • Idioms and Phrases
  • Grammar
  • Use of prepositions
  • Spellings
  • Clauses
  • Sentence formation
  • Arrangements

Frequently Asked Questions   

प्रश्न: RAS pre कितने मार्क्स का होता है?

उत्तर: RAS प्रारंभिक परीक्षा में सामान्य ज्ञान और सामान्य विज्ञान के पेपर के लिए कुल 200 अंक होते हैं। यह परीक्षा दो पेपरों में होती है, प्रत्येक पेपर के लिए 100-100 अंक दिए जाते हैं।

प्रश्न: आर एस में कितने सब्जेक्ट होते हैं?

उत्तर: राजस्थान लोक सेवा आयोग (RPSC) के द्वारा आयोजित राजस्थान प्रशासनिक सेवा (RAS) परीक्षा में, प्रारंभिक परीक्षा में सामान्य ज्ञान और सामान्य विज्ञान के अलावा कुल में छः विषय और होते हैं।

प्रश्न: RAS में पास होने के लिए कितने नंबर चाहिए?

उत्तर: राजस्थान प्रशासनिक सेवा (RAS) प्रारंभिक परीक्षा में पास होने के लिए, उम्मीदवारों को अलग-अलग वर्गों में कट ऑफ मार्क्स प्राप्त करने की आवश्यकता होती है, जो प्रत्येक वर्ष बदलते हैं।

प्रश्न: RAS के लिए उम्र कितनी होनी चाहिए?

उत्तर: राजस्थान प्रशासनिक सेवा (RAS) के लिए उम्र सीमा आमतौर पर 21 से 40 वर्ष के बीच होती है, जबकि आरक्षित वर्गों के उम्र में छूट दी जाती है।

प्रश्न: RAS की सैलरी कितनी है?

उत्तर: राजस्थान प्रशासनिक सेवा (RAS) की सैलरी सरकारी नौकरियों के आधार पर होती है और यह अधिकारिक स्तर पर निर्धारित की जाती है।

Conclusion

दोस्तों, इस लेख में हमने RPSC RAS Syllabus in Hindi के बारे में विस्तार से बताया है। इसके साथ ही, हमने RAS Pre Syllabus 2023 और RAS Mains Syllabus 2023 के पीडीऍफ़ आपको दिए है जिनको आप आसानी से डाउनलोड कर सकते है । यदि आपके मन में कोई सवाल हो, तो कृपया हमें कमेंट में पूछें। हम आपके सवाल का उत्तर जरूर देंगे।

नमस्ते दोस्तों, मेरा नाम है अमित देसाई , मै एक अध्यापक हु इसके साथ ही मै इस ब्लॉग का फॉउंडर और राइटर भी हु। मैंने बैंकिंग , एसएससी , रेलवे जैसे बहुत सी परीक्षाएं दी है और इस समय मै ५० से अधिक बच्चो को कोचिंग के माध्यम से उसकी तैयारी करवाता हु। मेरा उद्देश्य अधिक से अधिक उम्मीदवारों को सटीक और समझने में आसान हो ऐसी जानकारी प्रदान करना है। मैं परीक्षाओ की तैयारी करने वाले छात्रों की मदद करने के लिए परीक्षा पैटर्न, पाठ्यक्रम, पुराने पेपर ,अध्ययन तकनीक जैसे विभिन्न विषयों को अपने ब्लॉग के माध्यम से उन तक पहुचाता हु ताकि वे अपनी परीक्षाओं में अच्छा प्रदर्शन कर सकें और अपने लक्ष्यों को प्राप्त कर सकें।

Leave a comment

Exit mobile version